नेताओं और व्यापारियों समेत 10 हजार बड़े लोगों पर है चीन की नजर, जानें क्या है पूरा मामला

Chinese Company Monitors Top Indian Politicians: चीन पूरी दुनिया में अपने प्रोडक्ट्स बेचता है। सस्ते प्रोडक्ट्स होने के कारण चीन के प्रोडक्ट्स लोगों को खूब पसन्द भी आते हैं। हालांकि अधिकतर प्रोडक्ट्स में वो क्वालिटी नहीं होती, जो लोगों को चाहिये होती है। चीन के अधिकतर स्मार्टफोन्स का यूआई जंक से भर होता है जो जमकर एड्स दिखाता है। बीच में यह बात भी सामने आयी थी, की शाओमी जैसी कम्पनियाँ लोगों का डेटा भी चोरी करती है। लेकिन हाल ही में एक हैरान कर देने वाली ख़बर सामने आयी है, जिसके मुताबिक चीन की सरकार से जुड़ी डाटा कम्पनी भारत के कई बड़े नेताओं सहित 10 हजार बड़े लोगों और संस्थाओं पर नज़र रखे हुए है।

10 हजार से अधिक बड़े लोगों को निगरानी कर रहा है चीन

हाल ही में एक अंग्रेजी न्यूज़पेपर ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ ने एक इन्वेस्टिगेशन की थी। इस इन्वेस्टिगेशन में यह पता चला कि चीन भारत में 10 हजार से भी अधिक जरूरी और महत्वपूर्ण लोगों की निगरानी कर रही है। इन महत्वपूर्ण लोगों में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी, वर्तमान राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोलिंद, रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह भी शामिल हैं। इतना ही नहीं, वेबसाइट यह भी दावा करती है कि चीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उनके बेटे राहुल गांधी, उनके परिवार और केबिनेट मंत्री सहित कई मुख्यमंत्रियों पर भी नज़र रखती है।

Top Indian Politicians

इन नेताओं और बिजनेसमैन पर है चीन की नज़र

चीन की जिन महत्वपूर्ण भारतीय लोगों पर नजर है, उनमें से अधिकतर या तो बड़े नेता हैं या फिर बड़े कंपनियों के मालिक हैं। चीन की जिन लोगों पर नज़र है उनमें भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोलिंद, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा, कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस के मुख्य नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी, डिफेंस स्टाफ के चीफ विपिन रावत, देश की चीफ जस्टिस एस ए बोबडे, नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत, टाटा ग्रुप के चेयरमैन रतन टाटा, अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी, क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, फ़िल्म डायरेक्टर श्याम बेनेगल का नाम शामिल है।

यह केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री हैं नज़र में

इंडियन एक्सप्रेस के द्वारा की गयी इन्वेस्टीगेशन के अनुसार कुछ मुख्यमंत्री चीन की नज़र में हो सकते हैं जिनमें मध्यप्रदेश के शिवराज सिंह चौहान, राजस्थान के अशोक गहलोत, महाराष्ट्र के उद्धव ठाकरे, पंजाब के अमरिंदर सिंह, पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी के नाम सबसे आगे हैं। इसके अलावा कुछ केंद्रीय मंत्री भी चीन की नज़र में हो सकते हैं जिनमें राजनाथ सिंह, निर्मला सीतारमण, रविशंकर प्रसाद, पीयूष गोयल, स्मृति ईरानी, वीके सिंह, किरण रिजिजू, रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ जैसे नाम शामिल हैं।

सेनाओं के प्रमुखों को भी किया जा रहा है ट्रेक

इंडियन एक्सप्रेस का कहना है कि चीन ने भारत की तीनों मुख्य सेनाओं के मुख्य लोगों को भी नज़र में रखा हुआ है। इंडियन एक्सप्रेस की मानें तो तीनों सेनाओं के 15 पूर्व प्रमुखों, 250 ब्यूरोक्रेट और डिप्लोमेट्स की भी ट्रैकिंग की जा रही है। शशि थरूर ने हाल ही में एक बयान दिया कि चीन का भारत के महत्वपूर्ण लोगों और सेनाओं के प्रमुखों पर नज़र रखना एक माइनिंग ऑपरेशन हो सकता है।

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार चीनी सरकार से जुड़ी हुई शेनझेन शहर की झेंहुआ डेटा इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी कंपनी महत्वपूर्ण भारतीयों पर नज़र रखने का काम कर रही है। इस कंपनी के निशाने पर कई महत्वपूर्ण भारतीय लोग और संस्थाए हैं।

Leave a Comment