हर साल मिलेगी 60 हजार रुपये तक की पेंशन, जानिए कौन सी है यह सरकारी योजना!

Atal Pension Yojana: सरकारी नौकरी प्राप्त करने वालों का सबसे बड़ा फायदा यही रहता हैं कि उन्हें रिटायरमेंट पर एक अच्छा अमाउंट मिलता है और साथ में पेंशन भी मिलती हैं। जबकि अधिकतर प्राइवेट नौकरी में ऐसा नहीं होता। प्राइवेट नौकरी वालों को न तो कोई खास रिटायरमेंट अमाउंट मिलता है और ना ही कोई पेंशन। लेकिन सरकार की कुछ योजनाएँ नागरिकों का साथ दे रही है। उन्ही में से एक योजना अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) भी है।

प्राइवेट नौकरी वालों के लिए काफी फ़ायदेमंद है अटल पेंशन योजना

जो लोग अपनी रिटायरमेंट के बाद अपने आगे के जीवन को लेकर परेशान है उनके लिए अटल पेंशन योजना काफी बेहतरीन साबित हो सकती है। जिन लोगों को नौकरी के बाद पेंशन नहीं मिलती है अटल पेंशन योजना उन्हें पेंशन देने की गारंटी देती है। अटल योजना के तहत फिलहाल एक हजार से लेकर 5 हजार तक की पेंशन मिल सकती है। कोई भी प्राइवेट जॉब वाला व्यक्ति 40 साल तक अटल पेंशन योजना के लिए आवेदन कर सकता है।

मिल सकती है 60 हजार तक की सालाना पेंशन

अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए अकाउंट में हर महीने एक निश्चित राशि जमा करनी होगी। जो लोग अटल पेंशन योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें पहले हर 6 महीने में 1239 रुपये का योगदान देना होगा। इसके बाद 60 साल की उम्र के बाद योजना से जुड़े व्यक्ति को आजीवन 5 हजार रुपये दिए जाएंगे। यानी कि कुल मिलाकर 60 हजार रुपये साल के दिए जाएंगे। यह पैसे व्यक्ति को रिटायरमेंट के बाद एक आर्थिक सहायता प्रदान करेंगे।

Atal Pension Yojana

हर महीने दे सकते हैं 210 रुपये

जो साल भर के पैसे एक साथ या 6 महीने में किश्त देने के लिए समर्थ नहीं हैं वो हर महीने भी पैसे दे सकते हैं। कोई भी व्यक्ति रिटायरमेंट के बाद पेंशन प्राप्त करने के लिए हर महीने योजना में 210 रुपये जमा करा सकता है। व्यक्ति चाहे तो अपनी सुविधा के अनुसार हर 3 महीने में 626 रुपये, 6 महीने में 1239 रूपये निवेश कर सकता है।

इसके अलावा योगदान की विभिन्न श्रेणियां हैं जो 60 की उम्र के बाद व्यक्ति को मिलने वाली पेंशन को निर्धारित करेगी। जैसे कि 1000 मासिक पेंशन पाने के लिए व्यक्ति 18 की उम्र से मासिक 42 रुपये देना शुरू कर सकता है।

कम उम्र में जुड़ने पर मिल सकता है अधिक फायदा

जो नागरिक इस योजना से कम उम्र में जुड़ेगा उसे योजना का अधिक फायदा मिल सकता है। अगर कोई व्यक्ति 35 की उम्र से हर 6 महीने में 5,323 रुपये जमा कराता है तो उसका निवेश 2.66 लाख होगा और उसको हर महिने में 5 हजार की पेंशन मिलेगी। वहीं अगर कोई व्यक्ति 18 की उम्र से योजना में जुड़ता है तो उसका निवेश 1.04 लाख का होगा और उसे भी 5 हजार रुपये प्रतिमाह सैलरी मिलेगी।

42 साल तक होगा निवेश

अगर कोई व्यक्ति 18 से निवेश करना शुरू करता हैं तो उसे 42 साल तक कुल 1.04 लाख निवेश करने होंगे जिसके बाद उसको 60 साल की उम्र से आजीवन 5 हजार रुपये प्रतिमाह मिलेंगे। पेमेंट के लिए प्रतिमाह, तिमाही और छमाही निवेश का विकल्प चुना जा सकता है। इस योजना में टैक्स छूट का फायदा मिलेगा। अगर 60 साल के पहले सदस्य की मौत हो जाती है तो पेंशन राशि पत्नी/पति को मिलती है और अगर दोनो की मौत हो जाती हैं तो नॉमिनी को यह राशि मिलती है। इस योजना में एक व्यक्ति के नाम पर एक ही अकाउंट खोला जा सकता है।

Leave a Comment