राम जन्मभूमि मंदिर: अयोध्या में पीएम मोदी ने ‘जय सिया राम’ के नारे के साथ किया देश को संबोधित, यह 5 बिंदु थे खास!

Ayodhya Ram Janmabhoomi Mandir: कल यानि 5 अगस्त को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के भूमिपूजन के लिए पहुचे। भूमिपूजन के बाद अब मंदिर के निर्माण कार्य को शुरू किया जाएगा। प्रधानमन्त्री के द्वारा किये गए भूमिपूजन में उनके साथ कई गणमान्‍य लोग भी शामिल हुए थे। प्रधानमंत्री ने पूजन के साथ अयोध्या की मिट्टी को भी प्रणाम किया।

इस खास मौके पर उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री श्री योगी अदित्यनाथ समेत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने भी जनता संबोधित किया और बधाई दी। प्रधानमंत्री ने मंदिर निर्माण के कार्य को शुरू करने के लिए श्रीराम जन्मभूमि ट्रस्ट का धन्यवाद भी दिया। प्रधानमंत्री ने अपने इस सम्बोधन में कई सारी बातें कही।

हमारे मन में गढे हुए हैं राम

माननीय प्रधानमंत्री जी ने अपने सम्बोधन में कहा कि सालों से अयोध्या में भगवान श्रीराम टाट और टेंट के नीचे रह रहे है परन्तु अब मंदिर का निर्माण होगा। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा की ‘सदियो से चल रहे बनने और बिगड़ने के इस क्रम को अब खत्म कर दिया गया है। अब हमारे राम एक भव्य मन्दिर में निवास करंगे। इस पल को लेकर पूरा देश रोमांचित है’।

संस्कृति का आधुनिक प्रतीक बनेगा श्री राम जन्मभूमि मंदिर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में जय सिया राम के नारे के साथ देश को संबोधित करते हुए कहा कि अयोध्या में निर्माण किया जा रहा राम जन्मभूमि मंदिर भारतीय संस्कृति का आधुनिक प्रतीक बनेगा। ये मन्दिर भारत के लोगों की शास्वत आस्था, राष्ट्रीय भावना और देश के करोड़ों  लोगों की सामूहिक शक्ति का प्रतीक भी बनेगा। श्रीराम के जीवन से हर व्यक्ति को प्रेरणा लेनी चाहिये। कोई काम करना हो, तो प्रेरणा के लिए हम भगवान राम की ओर ही देखते हैं। श्रीराम भारत की मर्यादा हैं, श्रीराम मर्यादा पुरुषोत्तम हैं।

Ram Mandir

राम मन्दिर के आंदोलन में अर्पण, तर्पण और संघर्ष था शामिल

श्री राम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण के लिए पहले कई आंदोलन किये गए जो आख़िरकर सफल हुए है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन आंदोलनों को संबोधित करते हुए कहा कि श्री राम को उनका घर दिलवाने के लिए चलाए गए आंदोलनों में अर्पण, तर्पण और संघर्ष शामिल था। प्रधानमंत्री ने उन सभी आंदोलनकारियों को 130 करोड़ देश वासियों की तरफ से नमन किया।

भारत के बाहर भी प्रचलित है रामकथा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भगवान राम के बारे में कुछ रोचक बातें करते हुए यह भी बताया कि भारत के बाहर भी कई देशों में उनकी लोक भाषाओं में राम कथा प्रचलित है। भगवान राम के भक्त ना केवल भारत में बल्कि पूरी दुनिया में मौजूद है। श्री राम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण का कार्य शुरू होने से देश के करोड़ों लोगों को खुशी हो रही है और यह खुशी मंदिर बनने के बाद भी रहेगी। यह मंदिर भारतीय संस्कृति की विरासत का एक हिस्सा बनने वाला है।

आंदोलनकारियों ने किया अपना सब कुछ समर्पित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के दौरान देश को आजादी दिलाने के लिए हुए आंदोलनों की बात भी की। उन्होंने आंदोलन में भाग लेने वाले आंदोलनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि देश को आजादी दिलाने के लिए जिन लोगों ने आंदोलनों में भाग लिया उन्होंने अपना सब कुछ न्यौछावर कर दिया। अंग्रेजों से भारत को मुक्त कराने के लिए देश के हर भाग से लोगों ने आंदोलनों में भाग लिया था।

Leave a Comment