Friday, February 26, 2021
Home लाइफस्टाइल धर्म और आस्था Haridwar Kumbh Mela 2021: हरिद्वार कुम्भ मेला शुरू, अगर आप भी कुम्भ...

Haridwar Kumbh Mela 2021: हरिद्वार कुम्भ मेला शुरू, अगर आप भी कुम्भ मेले में जा रहे हैं तो पहले ये जरुरी बातें जान लें!





Haridwar Kumbh Mela 2021: कुम्भ का मेला कोई साधारण मेला नहीं होता है, यह एक महोत्सव होता है जिसमें लाखों-करोड़ों लोग शामिल होते हैं। महा कुम्भ का मेला (Maha Kumbh Mela 2021) एक महापर्व होता है जो सदियों से आयोजित होता आ रहा है। भारत में रहने वाला हर व्यक्ति चाहता है कि वह जिंदगी में एक न एक बार कुम्भ स्नान जरूर करे। मान्यता है कि कुम्भ स्नान से सभी पाप धुल जाते हैं और माँ गंगा का आशीर्वाद मिलता है। हरिद्वार में 14 जनवरी मकर संक्रांति से कुम्भ मेला (Haridwar Kumbh 2021) आरम्भ हो चुका है।

हरिद्वार कुंभ मेले में इस बार 6 प्रमुख स्नान हैं। पहला स्नान मकर संक्रांति को, दूसरा स्नान 11 फरवरी को मौनी अमावस्या की तिथि पर, तीसरा स्नान 16 फरवरी को बसंत पंचमी के पर्व पर, चौथा स्नान 27 फरवरी को माघ पूर्णिमा की तिथि पर, पांचवा स्नान 13 अप्रैल चैत्र शुक्ल प्रतिपदा (हिन्दी नववर्ष) और  कुम्भ का छठा प्रमुख स्नान 21 अप्रैल को राम नवमी पर होगा। अगर आप इस बार कुम्भ मेले में जाने की सोच रहे हैं, तो आपको इससे जुड़ी हुई जरूरी बातें और नियमों के बारे में पता होना चाहिए। अगर आप इनके प्रति लापरवाही करेंगे तो आपको भारी नुकसान हो सकता है। तो चलिए जानते हैं कुंभ मेले (Haridwar Kumbh Mela 2021) से जुडी हुई जरूरी बातों के बारे में!

दान करना है जरूरी 

Haridwar Kumbh Mela 2021

अगर आप कुंभ के मेले में इस बार स्नान करने जा रहे हैं तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि वहां पर कुछ न कुछ दान करके जरूर आएं क्योंकि दान के बिना कुंभ स्नान अधूरा माना जाता है। इसके अलावा आपको कुछ न कुछ त्याग भी करना चाहिए जैसे कि अगर आपके अंदर कोई बुरी आदत है तो आप कुंभ स्नान के साथ उसे त्याग सकते हो।

इस तरह से करें कुंभ स्नान 

Haridwar Kumbh Mela 2021

अगर आप कुंभ के मेले में जाना चाहते हो और वहां पर कुंभ स्नान करना चाहते हो तो याद रखें स्नान करने से पहले नदी को प्रणाम करें और उसमें पुष्प चढ़ाएं व अपनी इच्छा अनुसार मुद्रा दान करें और स्नान के बाद किसी पुरोहित को वस्त्र आदि भी दान करें। यह सनातन धर्म की मान्यता है जो व्यक्ति को दान के प्रति अग्रसर रखती है।

न करें यह गलतियां 

Haridwar Kumbh Mela 2021

अगर आप कुंभ स्नान के लिए जा रहे हैं तो ध्यान रखें कि नदी केवल स्नान के लिए है और अन्य कार्यों के लिए इसका प्रयोग ना करें। स्नान के दौरान खेलना मना है और अन्य क्रियाएं जैसे कि शौच, कुल्ला, कपड़े धोना आदि से भी दूर रहना ही उचित है। इस तरह के कार्य करना नदी के साथ दुर्व्यवहार माना जाता है, जिससे कार्य करने वाले व्यक्ति के ऊपर पाप चढ़ता है।


Akshat Jain
Akshat Jainhttps://newsraja.news/
A Great Contributor and Author, Akshat always passionate about his work and always try to give the best. he is keen to learn new things and implement them honestly. He has good experience in Content writing and can write in each and every topic in detail.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

IBPS PO Mains Score Card 2021: आईबीपीएस मैंस के स्कोर कार्ड हो चुके हैं जारी, ऐसे करें डाउनलोड!

IBPS PO Mains Score Card 2021: आईबीपीएस (IBPS) ने प्रोबेशनरी ऑफिसर / मैनेजमेंट ट्रेनी मुख्य परीक्षा 2021 के स्कोर कार्ड जारी कर दिए गए...

Link SBI Account To Aadhar: एसबीआई अकाउंट में सरकारी सब्सिडी का लाभ उठाना चाहते हैं तो इस तरह से करें खाते को आधार से...

Link SBI Account To Aadhar: अगर आप स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया यानि एसबीआई के ग्राहक हैं और सरकारी सब्सिडी का लाभ लेने की सोच...

Best Investment Plans: ये हैं लंबी अवधि के कुछ सदाबहार इन्वेस्टमेंट प्लान

Best Investment Plans: लंबे समय वाले इन्वेस्टमेंट प्लान्स मैच्योर होने पर ज्यादा मुनाफा देते हैं। इस प्रकार के निवेशों को 3 साल या इससे...

CTET 2021 Answer Key: जारी हो चुकी है सीटीईटी 2021 की आंसर की, ऐसे करें डाउनलोड और ऐसे दर्ज़ करें आपत्ति

CTET 2021 Answer Key: सीबीएसई द्वारा केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET 2021) की आंसर की जारी कर दी गई है। जो उम्मीदवार इस परीक्षा...

Recent Comments