IPL 2020 में हर पांचवें दिन किया जाएगा खिलाड़ियों का कोरोना टेस्ट, प्रैक्टिस से पहले 5 बार नेगेटिव आना अनिवार्य

IPL 2020 To be held in UAE: आईपीएल भारत में होने वाले सबसे बड़े खेलों की लिस्ट में शामिल है। भारत में हर साल आईपीएल काफी बड़े लेवल पर खेला जाता है लेकिन इस साल कोरोनावायरस महामारी के चलते आईपीएल के सामने लगातार चुनौतियां आती रही है। लद्दाख में हुए विवादों को लेकर जहां एक तरफ चीनी कंपनियों को आईपीएल स्पॉन्सर करने में दिक्कतें आ रही है तो वहीं दूसरी तरफ कोरोनावायरस के कारण आईपीएल लगातार टाला जा रहा था। लेकिन आखिरकार अब यूएई में आईपीएल के टेस्ट मैच शुरू होने वाले हैं।

मैच से पहले 5 बार नेगेटिव आना अनिवार्य

इस वर्ष IPL 2020 के मैच 19 सितम्बर 2020 से 8 नवंबर 2020 तक यूनाइटेड स्टेट्स एमिरेट्स यानी कि UAE में कराए जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार प्राप्त हुई जनकारी के अनुसार इस महामारी के दौरान यूनाइटेड स्टेट्स एमिरेट्स में मैच के पहले खिलाड़ियों को कम से कम 5 बार Covid-19 आरटी-पीसीआर टेस्ट में नेगेटिव आना होगा। जो खिलाड़ी पॉजिटिव पाया जायेगा वह मैच में शामिल नहीं होगा।

सम्बन्धित टीमों से जुड़ने से पहले होगा टेस्ट

बीसीसीआई के द्वारा दी गयी आधिकारिक जनकारी में बताया गया हैं कि आईपीएल में शामिल होने वाली सभी टीमों को अपनी सम्बन्धित टीम से मिलने के एक सप्ताह पहले कोविद-19 आरटी-पीसीआर का टेस्ट कराना अनिवार्य है। बताया गया है कि सभी खिलाड़ियों को एक सप्ताह पहले 24 घण्टे के अंतराल पर दो बार कोविद-19 आरटी-पीसीआर टेस्ट कराना होगा।

इसके बाद खिलाड़ियों को भारत में ही 14 दिन तक क्वारंटाइन किया जाएगा। अगर टेस्ट में कोई भी खिलाड़ी या स्टाफ का व्यक्ति अस्वस्थ पाया जाता है तो वह 14 दिनों तक क्वारंटाइन किया जाएगा। आईपीएल मैच के लिए UAE जाने के लिए क्वारंटाइन अवधि के खत्म होने के बाद भी 24 घण्टे के अंतराल में 2 कोरोना टेस्ट होंगे और उन टेस्ट में नेगेटिव आने के बाद ही खिलाड़ी और स्टाफ मेम्बर यूएई जा सकेंगे।

यूएई पहुचने के बाद भी होगा कोरोना टेस्ट

बीसीसीआई के द्वारा दी गयी आधिकारिक जानकारी के अनुसार IPL-2020 के लिए यूएई पहुचने के बाद भी कोविद-19 आरटी-पीसीआर टेस्ट किया जायेगा। यूएई पहुचने के बाद भी खिलाड़ियों को कुछ दिन के लिए क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा और उसके बाद उनके कोरोना टेस्ट किये जाएंगे। तीनों कोविड-19 टेस्ट में नेगेटिव आने के बाद ही खिलाड़ियों को खेलने की अनुमती दी जाएगी।

सूत्रों के द्वारा प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार UAE में होने वाले तीनों कोरोना टेस्ट होने के बाद ही खिलाड़ियों को खेलने की अनुमती दी जाएगी। अगर किसी भी टेस्ट में खिलाड़ी का स्वास्थ्य ठीक नहीं होने की संभावनाएं पायी गयी तो वह IPL 2020 टूर्नामेंट में शामिल नहीं हो सकेगा। अगर किसी तरह की कोई विपरीत स्थिति देखी गयी तो मैच के दौरान मामूली बदलाव किये जा सकते हैं।

IPL 2020

विदेशी ख़िलाडियों का भी होगा कोरोना टेस्ट

जब बीसीसीआई से विदेशी खिलाड़ियों को लेकर सवाल पूछा गया तो बीसीसीआई ने बताया कि जो खिलाड़ी IPL मैच 2020 के लिए सीधा विदेश से UAE आ रहे हैं उन्हें भी UAE आने से पहले कोरोना-टेस्ट करवना होगा। इसके बाद UAE आने के बाद भी उनका 3 बार कोरोना टेस्ट लिया जाएगा। अगर वह खिलाड़ी इन टेस्ट को पास नही कर पाए तो उन्हें खेलने की अनुमती नहीं  दी जाएगी।

Leave a Comment