सामने आयी NCERT की लर्निंग एनहांसमेंट गाइडलाइंस, डिजिटल संसाधनों के अभाव में भी सीख सकेंगे बच्चे!

NCERT Learning Enhancement Guidelines For Students: कोरोना वायरस महामारी की वजह से देश में शिक्षा का संतुलन बिगड़ चुका है। जहां एक तरफ इस समय तक शिक्षा का नया सत्र शुरू हो जाता था, तो वहीं इस बार अब तक बच्चे घरों में ही बैठे हैं। और जिन बच्चों के पास डिजिटल संसाधन हैं वह तो ऑनलाइन क्लासेज ले रहे हैं, और इंटरनेट की मदद से शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं, लेकिन जिनके पास डिजिटल संसाधनों का अभाव है, उनकी शिक्षा पर काफी प्रभाव पड़ रहा है। तो ऐसे बच्चों के लिए हाल ही में नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) ने नई लर्निंग एन्हांसमेंट गाइडलाइन तैयार की है।

डिजिटल संसाधनों के बिना भी सीखेंगे बच्चे

जिन छात्रों के पास डिजिटल संसाधनों की कमी है वह भी इस नई लर्निंग एनहैंसमेंट गाइडलाइंस की मदद से अपनी शिक्षा ग्रहण करने की प्रक्रिया जारी कर सकेंगे। इसके अलावा यह नई गाइडलाइंस उन सभी छात्रों की खामियाँ दूर करने में मदद भी करेगी, जो कि रेडियो, टेलीविजन या स्मार्टफोन जैसे माध्यमों का यूज़ करते हुए विभिन्न तरीकों से घर पर सीख रहे हैं। एनसीईआरटी की इस नई गाइडलाइंस की जानकारी केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने दी है।

NCERT Learning Enhancement Guidelines

सामूहिक केंद्रों में स्थापित की जाएगी हेल्पलाइन सेवा

एनसीईआरटी की नई लर्निंग एनहैंसमेंट गाइडलाइंस के अंतगर्त एनसीईआरटी कम्युनिटी के सदस्य और ग्राम पंचायतों के सदस्यों की मदद से सामूहिक केंद्रों पर हेल्पलाइन सेवा स्थापित की जाने वाली है। इस सेवा के माध्यम से अभिभावकों को नई शिक्षा प्रणाली की जानकारी दी जाएगी, जिससे कि वह अपने बच्चों को अधिक से अधिक सीखने में मदद कर सकें।

तीनों स्थितियों में मददगार होगी यह नई गाइडलाइंस

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने यह बताया कि एनसीईआरटी (NCERT) के द्वारा जारी की गई नई लर्निंग अरेंजमेंट गाइडलाइंस तीन स्थितियों में मददगार साबित होने वाली है। यह नई गाइडलाइंस जिन लोगों के पास डिजिटल संसाधन नहीं है, जिन लोगों के पास कम डिजिटल संसाधन हैं, और जिन लोगों के पास पर्याप्त डिजिटल संसाधन हैं, तीनों ही स्थितियों में मददगार साबित होगी।

यह नई गाइडलाइंस केंद्रीय विद्यालय संगठन, नवोदय विद्यालय समिति और CBSE (केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) के शिक्षण संस्थानों में डिजिटल शिक्षा की पहुँच पर NCERT द्वारा किये गए सर्वेक्षणों पर आधारित है। इस नई गाइडलाइन के माध्यम से राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में डिजिटल शिक्षा पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। NCERT का कहना है कि यह नई लर्निंग एनहेंसमेन्ट गाइडलाइंस बच्चों को डिजिटल माध्यमों से बेहतरीन चीजें सीखने में काफी मददगार साबित होगी।

Leave a Comment